Top 10+ जयपुर में घूमने की जगह – Jaipur Tourist Places

4.7/5 - (38 votes)

Jaipur Tourist Places (जयपुर में घूमने की जगह) :- जयपुर गुलाबी शहर के नाम से लोकप्रिय शहर है और जयपुर मे घुमने कि जगह के लिए भी जाना जाता है यह राजस्थान की राजधानी है अपने विभिन्न अकर्शानो के लिए जाना जाता है | जयपुर मे इतिहासिक कला के भव्यता और स्थापत्य कला एक लोकप्रिय उदाहरण है यहाँ घुमने के साथ साथ विभिन्न पकवान स्ट्रीट फ़ूड और रंगीन बाजारों के लिए भी प्रचलित है | जयपुर दिल्ली, आगरा के बाद सबसे ज्यादा प्रयटको मे मशहूर है जहा देशी एवं विदेशी लोगो का आना जाना लगा रहता है| जयपुर मे घुमने की जगह ( Tourist Places in Jaipur) ऐसे तो बहुत सरे जगह है |

 हैलो दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हम जयपुर में स्थित प्रमुख पर्यटन और धार्मिक स्थल के बारे में जानने वाले हैं, जिसे घूमने के लिए लोग भारत के अलग-अलग शहरो के अलावा विदेशो से भी काफी अधिक संख्या में आते हैं | अगर आप जयपुर घूमने के बारे में (Visit Places in Jaipur) सोच रहे हैं तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा आवश्य पढ़ना चाहिए और बताये गए पर्यटन स्थल (Jaipur Tourist Place) को घूमना चाहिए तो चलिए हम अपने इस आर्टिकल में जानकारी की और आगे बढते हैं और जयपुर के प्रमुख पर्यटन स्थल (jaipur me ghumne ki jagah) और घूमने की जगह (Places to visit in jaipur) के बारे में जानते हैं :-

जयपुर में दर्शनीय स्थल  – Places to visit in Jaipur

जयपुर राजस्थान राज्य में स्थित एक एतेहासिक स्थल है | यहाँ पर कई ऐसे धार्मिक और एतेहासिक पर्यटन स्थल है जिसे देखने काफी अधिक संख्या में लोग देश एवं विदेश से आते हैं | जयपुर में वैसे तो बहुत सारे पर्यटन स्थल (Tourist places in Jaipur) है लेकिंग उनमे से प्रमुख पर्यटन स्थल जो लोगो द्वारा बहुत पसंद किया जाता है वैसे पर्यटन स्थल (Places to visit in jaipur) के बारे में हम इस आर्टिकल में जानकारी देंगे तो चलिए अपने इस आर्टिकल में जानकारी की ओर आगे बढते हैं :-

Table of Contents

जयपुर का फेमस हवा महल – Hawa Mahal, Jaipur

Jaipur me ghumne ki jagah
Hawa Mahal, Jaipur

घुमने की जगह में जयपुर सबसे प्रचलित जगह हवा महल (Hawa Mahal) है जो छत्ते के आकार में बना हवा महल जयपुर का एक मील का पत्थर है। इसे ‘हवाओं का महल’ के रूप में भी जाना जाता है, यह पांच मंजिला इमारत बिना किसी नीव के बनायीं गयी है जो 1799 में महाराजा सवाई प्रताप सिंह द्वारा शाही महिलाओं के लिए सड़क पर रोजमर्रा की जिंदगी और समारोहों को देखने के लिए बनाई गई थी, क्योंकि उन्हें बिना ढके सार्वजनिक उपस्थिति की अनुमति नहीं थी | यह प्राचीन कला का एक उत्क्रिस्ट उदहारण है जहा लाखो लोग घुमने आते है यहाँ विदेशी लोगो का भी आना जाना लगा रहता है अगर आप जयपुर आये है तो हवा महल जरुर घूमना और यहाँ फोटो खिच्वायिये जो आपके जयपुर के यादो को हमेसा तजा रखेगा |

इसे भी पढ़े :- सिक्किम एक खुबसुरत पहाडो का शहर जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए |

जयपुर का जंतर मंतर – Jantar Mantar, Jaipur

jaipur me ghumne wali jagah
Jantar Mantar, Jaipur

जयपुर में जंतर मंतर एक प्रमुख दर्शनीय स्थल है,  प्राचीन समय में जब घडी का आविष्कार नहीं हुआ था तब जंतर मंतर नाम के यन्त्र को समय, ग्रह, नक्षत्रों को देखने के लिए बनवाया गया था | जहाँ दुनिया का सबसे बड़ा पत्थर का सुंडीयल है जिसकी ऊँचाई २७ मीटर है जिसे महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय द्वारा 1734 में निर्मित करवाया गया एक खगोलीय वेधशाला है| इसे य्नेसको की विश्व धरोहर मे सामिल किया गया है | इसे देखने देश विदेश से पर्यटक आते हैं | यह अपने आप में एक अद्भुत अविष्कार का नमूना है |

इसे भी पढ़े :- मथुरा कृष्ण की नगरी जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए

जयपुर का बिरला मंदिर – Birla Temple, Jaipur

jaipur visit palace
Birla Mandir, Jaipur

बिरला मंदिर जयपुर के मंदिरों मे से एक प्रसिद्ध मंदिर है जो प्रेम का प्रतीक राधा कृष्ण को समर्पित है | जिसे सफ़ेद संगमरमर मे डिजाईन किया गया है जो देखने मे एक शानदार मंदिर है जहा देवी देवताओ की मूर्ति की नक्काशी काफी खुबशुर्ती से तराशी गयी है मंदिर के परिसर मे आपको सफ़ेद चूहों की हुजूम देखने को मिलेगी जो मंदिर की शान है यहाँ आकार आप अपने यात्रा को यादगार बना सकते है |

इसे भी पढ़े :- पूरी एक खुबसुरत समुन्द्र के किनारे बसा शहर जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए

जयपुर का जल महल – Jal Mahal, Jaipur

ghumne ki jagah in Jaipur
Jal Mahal, Jaipur

जल महल पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र है यह अरावली पहाड़ियों के बिच मानसागर झील के बिच बना हुआ है यह जयपुर का प्रमुख स्थल है| जल महल राजस्थानी और मुग़ल वास्तुकला का मिश्रण है जल महल पंच मंजिला है जिसमे चार मंजिल पानी के भीतर है और एक मंजिल पानी के बहार दीखता है यहाँ आप बोटिंग भी कर सकते है और घुमने का मजा उठा सकते है |

जयपुर का फेमस सिटी पैलेस – City Palace, Jaipur

jaipur main kaha ghume
City Palace, Jaipur

सिटी पैलेस सवाई मानसिंग के द्वारा निर्मित कराया गया है जिसमे सवाई मानसिंग के बांसज आज भी यही रहते है यह पैलेस आपको बताता है की आखिर राजा महाराजा की फैमली कैसे रहती थी यह पैलेस इतना बड़ा है की जयपुर का सातवा भाग इसका एक अंश है यहाँ आपको घुमने आवश्य आईये |

इसे भी पढ़े :-  कोलकाता घुमने कि जगह जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए

जयपुर में नाहरगढ़ किला – Nahargarh Fort, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

नाहरगढ़ किला, जयपुर का एक ऐतिहासिक किला है, जो अरावली पर्वतमाला की पहाड़ियों पर स्थित है। यह किला जयपुर के शहर से लगभग 10 किलोमीटर दूर है। नाहरगढ़ किला जयपुर के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है। नाहरगढ़ किले का निर्माण 1734 में महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय ने करवाया था। इस किले का निर्माण आमेर किले की सुरक्षा के लिए किया गया था। नाहरगढ़ किला अपनी सुंदर वास्तुकला और शानदार दृश्यों के लिए जाना जाता है। किले के अंदर कई महल, उद्यान और मंदिर हैं। इनमें से सबसे प्रसिद्ध महल माधवेंद्र भवन है। माधवेंद्र भवन एक 12 कमरों वाला महल है, जो अपनी सुंदर नक्काशीदार खिड़कियों और छतों के लिए प्रसिद्ध है। नाहरगढ़ किले से जयपुर शहर का एक अद्भुत दृश्य दिखाई देता है। किले के ऊपर से आप जयपुर के सभी प्रमुख दर्शनीय स्थलों को देख सकते हैं। नाहरगढ़ किले की यात्रा के लिए कुछ सुझाव:

  • नाहरगढ़ किला सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक खुला रहता है।
  • किले में प्रवेश शुल्क ₹30 है।
  • किले के अंदर घूमने के लिए लगभग 2-3 घंटे का समय लगता है।
  • किले के ऊपर से शहर का दृश्य देखने के लिए शाम का समय सबसे अच्छा होता है।

जयपुर का अल्बर्ट हॉल संग्रहालय – Albert Hall Museum, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

अल्बर्ट हॉल संग्रहालय, जयपुर का एक प्रसिद्ध संग्रहालय है, जो रामनिवास उद्यान में स्थित है। यह संग्रहालय राजस्थान का सबसे पुराना संग्रहालय है और इसमें राजस्थानी और भारतीय कला, संस्कृति और इतिहास से संबंधित एक बड़ा संग्रह है। अल्बर्ट हॉल संग्रहालय का निर्माण 1876 में प्रिंस ऑफ वेल्स, अल्बर्ट एडवर्ड की जयपुर यात्रा के दौरान किया गया था। संग्रहालय की इमारत इंडो-सरैसेनिक वास्तुकला का एक उत्कृष्ट उदाहरण है।

जयपुर का आमेर किला – Amer Fort, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

आमेर किला, जयपुर का सबसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है। यह किला एक पहाड़ी की चोटी पर स्थित है और इसका निर्माण 16वीं शताब्दी में किया गया था। किले में कई प्राचीन मंदिर, महल और संग्रहालय हैं। आमेर किले का निर्माण राजा मान सिंह प्रथम ने करवाया था। इस किले का निर्माण आमेर के शासकों के निवास स्थान के रूप में किया गया था। आमेर किला अपनी सुंदर वास्तुकला और शानदार दृश्यों के लिए जाना जाता है।

जयपुर का जयगढ़ किला – Jaigarh Fort, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

जयगढ़ किला, जयपुर का एक ऐतिहासिक किला है, जो अरावली पर्वतमाला की पहाड़ियों पर स्थित है। यह किला जयपुर के शहर से लगभग 11 किलोमीटर दूर है। जयगढ़ किला जयपुर के सबसे लोकप्रिय पर्यटन् स्थल में से एक है। जयगढ़ किले का निर्माण 1726 में महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय ने करवाया था। इस किले का निर्माण आमेर किले की सुरक्षा के लिए किया गया था। जयगढ़ किला अपनी सुंदर वास्तुकला और शानदार दृश्यों के लिए जाना जाता है।

जयपुर का राज मंदिर सिनेमा – Raj Mandir Cinema, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

राज मंदिर सिनेमा, जयपुर का एक प्रसिद्ध सिनेमा हॉल है, जो भगवान दास रोड पर स्थित है। यह सिनेमा हॉल 1976 में बनाया गया था और यह भारत के सबसे बड़े सिनेमा हॉलों में से एक है। राज मंदिर सिनेमा अपनी शानदार वास्तुकला और भव्यता के लिए जाना जाता है। यह सिनेमा हॉल मेरिंग्यू शैली में बनाया गया है, जो राजस्थानी वास्तुकला का एक रूप है। राज मंदिर सिनेमा में 650 सीटें हैं और यह एक बहु-स्क्रीन सिनेमा हॉल है। यह सिनेमा हॉल बॉलीवुड और हॉलीवुड की फिल्मों का प्रदर्शन करता है।

जयपुर का गोविंद देव जी मंदिर – Govind Dev Ji Temple, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

गोविंद देव जी मंदिर, जयपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है, जो सिटी पैलेस परिसर में स्थित है। यह मंदिर भगवान कृष्ण को समर्पित है और यह जयपुर के सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों में से एक है। गोविंद देव जी मंदिर का निर्माण 1734 में महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय ने करवाया था। यह मंदिर अपनी सुंदर वास्तुकला और नक्काशी के लिए जाना जाता है। मंदिर के अंदर भगवान कृष्ण की एक भव्य प्रतिमा है, जो एक संगमरमर के सिंहासन पर बैठी हुई है। प्रतिमा को गोविंद देव जी के नाम से जाना जाता है और यह जयपुर के राजा और रानी के परिवार के देवता हैं।

जयपुर का रामबाग पैलेस – Rambagh Palace, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

रामबाग पैलेस, जयपुर का एक प्रसिद्ध महल है, जो जयपुर शहर के केंद्र से लगभग 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह महल 1835 में महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय ने बनवाया था। रामबाग पैलेस अपनी सुंदर वास्तुकला और भव्यता के लिए जाना जाता है। यह महल इंडो-सरैसेनिक वास्तुकला का एक उत्कृष्ट उदाहरण है।

जयपुर का मोती डूंगरी गणेश जी मंदिर – Moti Dungri Ganesh Ji Temple, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

मोती डूंगरी गणेश जी मंदिर, जयपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है, जो जयपुर शहर के केंद्र से लगभग 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह मंदिर भगवान गणेश को समर्पित है और यह जयपुर के सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों में से एक है। मोती डूंगरी गणेश जी मंदिर का निर्माण 1761 में सेठ जय राम पालीवाल की देखरेख में करवाया गया था। यह मंदिर अपनी सुंदर वास्तुकला और नक्काशी के लिए जाना जाता है। मंदिर के अंदर भगवान गणेश की एक भव्य प्रतिमा है, जो एक संगमरमर के सिंहासन पर बैठी हुई है। प्रतिमा को मोती डूंगरी गणेश जी के नाम से जाना जाता है और यह जयपुर के लोगों के लिए एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।

जयपुर का सिसोदिया रानी का बाग – Sisodia Rani’s Garden, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

सिसोदिया रानी का बाग, जयपुर का एक प्रसिद्ध उद्यान है, जो जयपुर शहर के केंद्र से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह उद्यान 1728 में महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय ने अपनी रानी, सिसोदिया के लिए बनवाया था। सिसोदिया रानी का बाग अपनी सुंदर वास्तुकला और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जाना जाता है। यह उद्यान चारबाग शैली में बनाया गया है, जो एक पारंपरिक मुगल उद्यान शैली है। उद्यान के अंदर कई खूबसूरत मंडप, फव्वारे और जल धाराएँ हैं। उद्यान के केंद्र में एक झील है, जो उद्यान के सुंदरता को बढ़ाती है।

जयपुर का सेंट्रल पार्क – Central Park, Jaipur

जयपुर के फेमस पर्यटन स्थल (Jaipur me ghumne ki jagah)

सेंट्रल पार्क, जयपुर का सबसे बड़ा पार्क है, जो जयपुर शहर के केंद्र में स्थित है। यह पार्क 129 एकड़ में फैला हुआ है और यह जयपुर के लोगों के लिए एक लोकप्रिय मनोरंजन स्थल है। सेंट्रल पार्क में कई सुविधाएँ हैं, जिनमें शामिल हैं:- एक 5 किलोमीटर लंबा जॉगिंग ट्रैक, एक झील, एक फव्वारा, एक खेल का मैदान, एक चिड़ियाघर, एक बगीचा, एक वाटर पार्क है | सेंट्रल पार्क एक शांत और मनोरम स्थान है, जो प्रकृति प्रेमियों और परिवारों के लिए एक आदर्श स्थान है।

FAQ (जयपुर घूमने के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले सवाल ) :-

जयपुर कैसे घुमे?

तो जयपुर घुमने के कई विकल्प है जैसे टूरिस्ट बस यहाँ आशनी से मील जायेगी और शेयरिंग टेक्सी भी उपलब्ध है जो कम खर्चे मे आपको सभी जगह घुमा देगी इसके साथ साथ आप किराये की बाईक भी लेकर घूम सकते है जो आपको रेलवे स्टेशन पर आशानी से उपलब्ध हो जायेगी |

जयपुर कब जाना चाहिए?

तो जयपुर घुमने के लिए आप कभी भी जा सकते है लेकिन यहाँ घुमने का सबसे बेस समय अक्टूबर से मार्च का माह है जब गर्मी भी नही होती और मौसम काफी सुहाना रहता है |

जयपुर घूमने का सही समय?

जयपुर घूमने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च के महीनों के बीच होता है। इस दौरान मौसम ठंडा और सुहावना होता है और तापमान 15 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है। इस दौरान आप शहर के सभी दर्शनीय स्थलों को आराम से देख सकते हैं।

जयपुर की फेमस चीज क्या है?

जयपुर की फेमस चीजों में शामिल हैं- हवा महल, सिटी पैलेस, आमेर किला, जंतर मंतर, जयगढ़ किला, नाहरगढ़ किला, जयपुर की गुलाबी इमारतें, राजस्थानी व्यंजन इनके अलावा, जयपुर में कई अन्य आकर्षण भी हैं, जैसे कि अल्बर्ट हॉल संग्रहालय, राजस्थान संग्रहालय, और जयपुर संग्रहालय। जयपुर एक जीवंत और समृद्ध संस्कृति वाला शहर है, जो अपनी सुंदरता और आकर्षण के लिए दुनियाभर से पर्यटकों को आकर्षित करता है।

क्या अभी जयपुर घूमने का अच्छा समय है?

हाँ, अभी जयपुर घूमने का अच्छा समय है। वर्तमान में, जयपुर में तापमान 25 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच है, जो घूमने के लिए आदर्श है। बारिश भी बहुत कम होती है, इसलिए आप ऐतिहासिक स्थलों और बाजारों को आराम से देख सकते हैं।

जयपुर घूमने के लिए कितना पैसा चाहिए?

जयपुर घूमने के लिए आवश्यक धनराशि आपकी रुचि और बजट पर निर्भर करती है। अगर आप जयपुर के प्रमुख ऐतिहासिक स्थलों को देखना चाहते हैं, तो आपको कम से कम 10,000 रुपये की आवश्यकता होगी। अगर आप जयपुर की संस्कृति और व्यंजनों को भी अनुभव करना चाहते हैं, तो आपको 20,000 रुपये की आवश्यकता होगी।

क्या हम 2 दिन में जयपुर जा सकते हैं?

हाँ, आप 2 दिन में जयपुर जा सकते हैं। जयपुर के प्रमुख ऐतिहासिक स्थलों को देखने के लिए 2 दिन पर्याप्त हैं। आप जयपुर की यात्रा के लिए निम्नलिखित यात्रा कार्यक्रम का पालन कर सकते हैं:

दिन 1:

  • सुबह दिल्ली से जयपुर के लिए ट्रेन, बस, या हवाई जहाज से यात्रा करें।
  • जयपुर में होटल या गेस्टहाउस में चेक इन करें।
  • दोपहर में आमेर किला और हवा महल का भ्रमण करें।
  • शाम को जंतर मंतर का भ्रमण करें।

दिन 2:

  • सुबह सिटी पैलेस और अल्बर्ट हॉल संग्रहालय का भ्रमण करें।
  • दोपहर में बिड़ला मंदिर का भ्रमण करें।
  • शाम को दिल्ली के लिए वापसी यात्रा करें।

इस यात्रा कार्यक्रम को आपकी रुचि और समय के अनुसार समायोजित किया जा सकता है। यदि आप जयपुर की संस्कृति और व्यंजनों को भी अनुभव करना चाहते हैं, तो आप एक दिन में एक स्थानीय बाजार और एक रेस्तरां में जा सकते हैं।

जयपुर कब जाना चाहिए?

जयपुर घूमने के लिए अक्टूबर से फरवरी का महीना सबसे अच्छा है। इस दौरान मौसम ठंडा और सुहावना रहता है। तापमान 10 से 25 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है। इस दौरान आप जयपुर के ऐतिहासिक और सांस्कृतिक स्थलों को आराम से घूम सकते हैं।अगर आप गर्मियों में जयपुर घूमने की योजना बना रहे हैं तो जून से सितंबर के महीने में जाने से बचें। इस दौरान तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर चला जाता है।

निष्कर्ष (Discloser):

हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आप सभी लोगों को जयपुर में घूमने की जगह ( Jaipur Me Ghumne ki Jagah) (tourist places in Jaipur) से सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी है और यह जानकारी अगर आपको पसंद आई है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले। आपके इस बहुमूल्य समय के लिए धन्यवाद|

अगर आपके मन में हमारे आज के इस लेख के सम्बन्ध में कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बताएं। हम आपके द्वारा दिए गए comment का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे और हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को अंतिम तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद |

इसे भी पढ़े :-

नोट: यह ब्लॉग पोस्ट जयपुर के प्रति मेरी आत्मीय भावनाओं का प्रतिबिंब है और इसका उद्देश्य केवल जानकारी साझा करना है। 

Scroll to Top