10+ पटना के प्रमुख पर्यटन स्थल जो काफी प्रसिद्ध है – Patna me ghumne ki jagah

5/5 - (10 votes)

Patna me ghumne ki jagah –  बिहार की राजधानी पटना गंगा नदी के दक्षिणी तट पर स्थित पटना राज्य का सबसे बड़ा शहर है। इस शहर का इतिहास 2500 साल पहले का है। इस शहर का प्राचीन नाम पाटलिपुत्र था जो लगभग हजार वर्षों तक कई राजवंशों के अधीन मगध की राजधानी के रूप में रहा। पटना एक एतेहासिक स्थल है |

हैलो दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हम पटना में स्थित प्रमुख पर्यटन और धार्मिक स्थल के बारे में जानने वाले हैं, जिसे घूमने के लिए लोग भारत के अलग-अलग शहरो के अलावा विदेशो से भी काफी अधिक संख्या में आते हैं | अगर आप पटना घूमने के बारे में (Visit Places in Patna) सोच रहे हैं तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा आवश्य पढ़ना चाहिए और बताये गए पर्यटन स्थल (Patna Tourist Place) को घूमना चाहिए तो चलिए हम अपने इस आर्टिकल में जानकारी की और आगे बढते हैं और पटना के प्रमुख पर्यटन स्थल (Tourist places in Patna) और घूमने की जगह (Places to visit in Patna) के बारे में जानते हैं :-

पटना के लोकप्रिय पर्यटन स्थल – Tourist Places in Patna

पटना बिहार राज्य में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल है | यहाँ पर कई ऐसे धार्मिक और एतेहासिक पर्यटन स्थल है जिसे देखने काफी अधिक संख्या में लोग देश एवं विदेश से आते हैं | पटना में वैसे तो बहुत सारे पर्यटन स्थल (Tourist places in Patna) है लेकिंग उनमे से प्रमुख पर्यटन स्थल जो लोगो द्वारा बहुत पसंद किया जाता है वैसे पर्यटन स्थल (Places to visit in patna) के बारे में हम इस आर्टिकल में जानकारी देंगे तो चलिए अपने इस आर्टिकल में जानकारी की ओर आगे बढते हैं :- 

Table of Contents

बिहार संग्रहालय – Bihar Museum, Patna

Patna me ghumne ki jagah, Bihar Museum
Bihar Museum, Patna, Bihar

पटना यात्रा करने आये है तो जानते है  बिहार संग्रहालय एक प्रमुख पर्यटन स्थल है | यहाँ आपको कई कलाकृतियों को अलंकृत किया गया है और यह ऐतिहासिक ज्ञान का केंद्र है। यह बेली रोड पटना में स्थित है और एक पसंदीदा दर्शनीय स्थल है। संग्रहालय को भारत के समृद्ध इतिहास और संस्कृति पर प्रकाश डालने के लिए डिज़ाइन किया गया है।
बिहार संग्रहालय का आंतरिक भाग काफी आकर्षक है। यहां का परिसर साफ-सुथरा है और यहां की हर मूर्ति अपने गौरवशाली अतीत को परिभाषित करती है। साथ ही साथ यहाँ पर एक बच्चो के लिए कॉरिडोर है जहाँ बच्चे डायनासर, मगरमच्छ, अजगर इत्यादि प्रतिमा के साथ एक भव्य फोटो खिचवा सकते हैं यह कोरिडोर काफी आकर्षक है |

  • संग्रहालय में जाने के लिए एक विशेष समय है (सुबह 10: 30 – शाम 5:00 बजे) और यहाँ दोस्तों या परिवार के साथ घूमने के लिए एक आदर्श स्थान है। संग्रहालय में विभिन्न खंड हैं और बच्चों के लिए सबसे पसंदीदा हिस्सा कृत्रिम वन्यजीव अभयारण्य है।

तख्त हरमंदिर – Takth Harmandir – Gurudwara Patna city

Takth Harmandir, Patna city, Patna, Bihar, Patna me ghumne ki jagah
Takth Harmandir, Patna city, Patna, Bihar

हरमंदिर तख्त एक गुरुद्वारा है जिसे पुराने पटना के चौक क्षेत्र में स्थित पांच तख्तों में से सबसे पवित्र माना जाता है। कभी कुचा फारुख खान के नाम से जाना जाने वाला स्थान अब हरमंदिर गली के नाम से जाना जाता है। यह पटना में एक प्रमुख पर्यटन स्थल ( Tourist Place in Patna) है |

सिख पटना शहर को विशेष रूप से पवित्र मानते हैं, क्योंकि यहां सिखों के दसवें गुरु का जन्म हुआ था। यहीं पर गुरु गोबिंद सिंह का जन्म वर्ष 1666 में हुआ था और उन्होंने आनंदपुर जाने से पहले अपने शुरुआती वर्ष बिताए थे। गुरु गोबिंद सिंह की जन्मस्थली होने के अलावा, पटना को गुरु नानक के साथ-साथ गुरु तेग बहादुर की यात्राओं से भी सम्मानित किया गया था। महाराजा रणजीत सिंह ने एक सुंदर गुरुद्वारा बनवाया, जिसे पटना साहिब के नाम से भी जाना जाता है। यह सिखों के प्रमुख तीर्थ स्थानों में से एक है। गुरु नानक के एक महान भक्त सालिस राय जौहरी उनकी शिक्षाओं से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने अपनी भव्य हवेली को एक धर्मशाला में बदल दिया जहाँ गुरु तेग बहादुर भी रहे।

यह वह स्थान है जहाँ अब हरमंदिर साहब का पवित्र मंदिर स्थित है। जब आप यहाँ दर्शन के लिए आयेंगे तो आपको काफी सुकून और अच्छा महसूस होगा | यहाँ लगभग सभी धर्मो के लोग आते है | संध्या के समय हरमंदिर रौशनी से जगमगा उठता है जो एक भव्य रूप प्रदर्शित करता है जो लोगो को अपनी ओर आकर्षित करता है | 

इसे भी पढ़े :- दिल्ली में लोकप्रिय पर्यटन स्थल जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए 

सभ्यता द्वार – Sabhyata Dwar, Patna

patna me ghumne ka jagah, Sabhyata Dwar, Patna city, Patna, Bihar
Sabhyata Dwar, Patna city, Patna, Bihar

पटना में घूमने के लिए कई जगह (Places to visit in Patna) हैं, और उस सूची में सभ्यता द्वार को जोड़ा गया है। इसका उद्घाटन माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने वर्ष 2018 में किया था। गांधी मैदान के उत्तरी भाग में स्थित सब्यता द्वार में अद्वितीय वास्तुकला है जो एक उत्कृष्ट कृति का एक निश्चित उदाहरण है। यह स्मारक लाल और बलुआ पत्थर से बना है, इसके ऊपर आप एक छोटा सा स्तूप देख सकते हैं। इस स्मारक में इतिहास की कई बातों का उल्लेख है जिन्हें देखने के लिए अवश्य जाना चाहिए। सभयता द्वार कई पर्यटकों का ध्यान आकर्षित करता है। खासतौर पर शाम को आराम करने के लिए लोग यहां इकट्ठा होते हैं। सभ्यता द्वार दिल्ली के इंडिया गेट की तरह है जहाँ पर आप एक पार्क भी देख सकते हैं यहाँ लोग फोटो खिचवाना पसंद करते हैं |

इसे भी पढ़े :- राजगीर में लोकप्रिय पर्यटन स्थल जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए 

महावीर मंदिर -Mahavir Temple, Patna

mahavir mandir, hanuman mandir, patna me ghumne ki jagah
Mahavir Temple, Patna, Bihar

पटना में लोकप्रिय मंदिरों में से एक महावीर मंदिर जिसे हनुमान मंदिर भी कहते हैं | यह पटना स्टेशन के बाहर स्हैथित है। इसकी ऊंची छत पर पीतल का पवित्र ‘कला’ चमकता है। इस मंदिर की स्थापना लगभग साठ साल पहले, ब्रिटिश राज के दौरान, मिट्टी की टाइल वाली छत के साथ एक विनम्र कमरे में की गई थी। शाम को एक ही मिट्टी के तेल का दीपक जलाते थे। कोई भी, चाहे वह महावीर का भक्त क्यों न हो, रात के अंधेरे कक्ष में प्रवेश करने की हिम्मत नहीं करेगा। 1947 में विभाजन के बाद जब कुछ पंजाबी हिंदू शरणार्थी पटना आए तो इस मंदिर को लोकप्रियता मिली। उस समय मंदिर को एक कंक्रीट के घर के रूप में बनाया गया था। यह मंदिर हिंदू धर्मो के लोगो के लिए खास है जहाँ लोगो को काफी संख्या में भीर होती है और यहाँ के नवेधम लड्डू बहुत ही फेमस है |

इसे भी पढ़े :- मनाली एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए 

गोल घर – Gol Ghar, Patna

PATNA ME GHUMNE KA JAGAH, GOLGHAR ,PATNA
Golghar, Patna, Bihar

गोल घर पटना में एक एतेहासिक स्थल है जिसे 1770 के अकाल के भयानक प्रभाव के बाद, 1786 में ब्रिटिश सेना के लिए कैप्टन जॉन गार्स्टिन द्वारा गोलघर, एक विशाल अन्न भंडार बनाया गया था। इस स्मारक के चारों ओर घुमावदार सीढ़ियां शहर और आसपास बहने वाली गंगा का शानदार दृश्य प्रस्तुत करती हैं। साथ ही साथ यहाँ पर आपको पार्क भी मिलेगा जहाँ आप घूम सकते हैं और संध्या के समय लेजर शो होता है जिसका दृश्य काफी मनोरम होता है | गोलघर के ऊपर चढ़ने पर आपको पटना का एक अद्भुत नजारा देखने को मिलेगा |

गाँधी घाट – Gandhi Ghat- NIT Ghat, Patna

patna me ghumne ki jagah gandhi ghat, nit ghat
NIT Ghat, Patna, Bihar

गांधी घाट, बिहार में गंगा का सबसे विकसित और पर्यटक अनुकूल तट है। जो काफी साफ सुथरा है यहाँ पर्यटकों के बोटिंग की भी सुविधा उपलब्ध है जहाँ आप गंगा नहीं में सैर कर सकते हैं | हालांकि पटना में रिवरफ्रंट 11 मील तक फैला है | साथ ही साथ यहाँ आपको कई एतेहासिक स्मारक – जैसे दरभंगा महाराज का महल, किला हाउस, शेर शाह सूरी का किला और टेकरी हाउस – घाटों (नदी के किनारे) के साथ बनाए गए थे, रिवरफ्रंट काफी सुंदर और सुसज्जित है।

आध्यात्मिक पर्यटन’ को बढ़ावा देने के लिए, बिहार सरकार हर शनिवार और रविवार को गांधी घाट पर एक आरती (एक हिंदू पूजा अनुष्ठान) आयोजित करती है। यह आरती हरिद्वार और वाराणसी  में आरती की तर्ज पर शुरू हुआ, यह आरती आकर्षक है जहाँ पुजारी मंत्रों और भजनों के साथ आरती करते हैं और काफी संख्या में लोग गंगा आरती को देखने आते हैं |

इसे भी पढ़े :- नैनीताल एक खुबसुरत पर्यटन स्थल जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए 

कंगन घाट -Kangan Ghat, Patna city

kangan ghat, patna me ghumne ki jagah
Kangan Ghat, Patna, Bihar

कंगन घाट पटना में तख्त श्री हरमंदिर साहिब से थोड़ी दूरी पर गंगा नदी के तट पर स्थित है। यह पटना के प्रमुख घाटो में से सबसे प्रसिद्ध है | इस घाट के बारे में मान्यता है कि सिखों के दसवें गुरु श्री गुरु गोबिंद सिंह जी महाराज बचपन में यहां सहपाठियों के साथ खेलते थे और इसी बीच उनके हाथ में पहनी हुई सोने की चूड़ी नदी में गिर गई। कंगन घाट सिख संप्रदाय की श्रद्धा से जुड़ा है। यहां का वातावरण बिल्कुल शांत है और यह पटना शहर के सबसे प्रसिद्ध स्थानों में से एक है। लोग अक्सर यहां अपने परिवार के साथ समय बिताने आते हैं, जो अपने आप में एक सुखद अहसास प्रदान करता है। यहां अक्सर शाम को भीड़ देखी जाती है। अगर आप गुरुद्वारा तख्त श्री हरमंदिर साहिब के दर्शन करने आते हैं तो कंगन घाट जरूर जाएं। 

 मरीन ड्राइव -Marine Drive, Patna 

patna me ghumne ki jagah Marine drive, patna
Marine Drive, Patna, Bihar

पटना शहर के किनारे गंगा नदी पर बना रोड को मरीन ड्राइव कहते है जिसे मुंबई के मरीन ड्राइव की तरह बनाया गया है यह दीघा से गायघाट को जोड़ता है | इसके उद्घाटन के बाद से पर्यटकों के लिए यह आकर्षक का केंद्र बना हुआ है | लोग यहाँ संध्या के वक्त गंगा नदी के किनारे सुकून का समय बिताने के साथ पिकनिक मानाने आते है साम के समय यहाँ सड़क से लेकर गंगा नहीं तक चकाचक रहता है जहाँ खाने पिने के हर एक समन मिलता है जिसका उपयोग कर लोग मरीन ड्राइव का मजा लेते हैं | 

पटना संग्रहालय- Patna Meseum

patna meseum
Patna Meseum, Patna, Bihar

पटना संग्रहालय 1917 में स्थापित, बिहार का सबसे पुराना संग्रहालय है जो इंदिरा गांधी तारामंडल से पैदल दूरी के भीतर है। इसके सबसे प्रसिद्ध टुकड़ों में एक पॉलिश बलुआ पत्थर की महिला परिचारक या यक्षी है, जो दीदारगंज में पाई गई को स्थापित किया गया है। इतिहासिक  कुषाण काल की कुछ जैन छवियां, और उत्तर पश्चिमी पाकिस्तान में गांधार क्षेत्र से बौद्ध बोधिसत्वों का संग्रह, दूसरी और तीसरी शताब्दी ईस्वी सन् का है। 200 मिलियन वर्ष पुराना 16 मीटर लंबा हो। संग्रहालय में चीनी कला का भी नमूना है | यहाँ दूसरी मंजिल कुछ शानदार तिब्बती ‘थंगका’ को समर्पित है, यानी स्क्रॉल पेंटिंग संग्रहीत हैं, जिन्हें बहाल करने की सख्त जरूरत है। पटना संग्रहालय में प्रथम विश्व युद्ध की तोप, मौर्य और गुप्त काल की धातु और पत्थर की मूर्तियां, बौद्ध मूर्तियां और विचित्र टेराकोटा की मूर्तियां हैं।

शेर शाह सूरी मस्जिद- मनेर शरीफ – Sher Shah Suri Masjid

Maner Sharif, Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Maner Sharif, Patna, Bihar

शेर शाह सूरी मस्जिद पटना के धवलपुरा के पश्चिम में पूरब दरवाजा के दक्षिण-पश्चिम कोने में स्थित है। इसे शेर शाह ने 1540-1545 में अपने शासनकाल की याद में बनवाया था। यह अफगान स्थापत्य शैली के लिए एक श्रद्धांजलि है, यह पटना के प्रभावशाली स्थलों में से एक है क्योंकि यह पटना की सबसे बड़ी मस्जिद है। परिसर के अंदर के मकबरे के ऊपर एक अष्टकोणीय पत्थर की पटिया है। सूर वंश के समय का यह विशाल भवन एक विशेष योजना के अनुसार बनाया गया है। छत के केंद्र में एक बड़ा गुंबद है जिसके चारों ओर चार छोटे गुंबद हैं। गुंबदों को इस तरह रखा गया है कि आप जिस भी कोण से देखें, उनमें से केवल तीन ही देखे जा सकते हैं, आप केवल तीन को बाहर से देख सकते हैं, हालाँकि छत पर पाँच हैं। patna me ghumne ki jagah me यह फेमस है |

इसे भी पढ़े :- अंडमान निकोबार एक खुबसुरत आइस लैंड जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए 

दरभंगा हाउस – Darbhanga House, Patna

Darbhanga House, Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Darbhanga House, Patna, Bihar

दरभंगा राज काल के दौरान कई महल बनाए गए थे और पटना में दरभंगा हाउस उनमें से एक है। गंगा नदी के किनारे स्थित इस अद्भुत स्थापत्य कला का निर्माण वर्ष 1901 में किया गया था। ब्रिटिश वास्तुकार चार्ल्स मंट ने इस महल को डिजाइन किया था, और वह वही वास्तुकार था जिसने दरभंगा में आनंदबाग पैलेस को डिजाइन किया था। दरभंगा हाउस की मुख्य विशेषता देवी काली मंदिर है जो दो ब्लॉकों के बीच में बनाया गया था। उस समय केवल शाही परिवार के लोगों को ही इस मंदिर में प्रवेश करने की अनुमति थी लेकिन आज हजारों भक्त इस मंदिर में श्रद्धा के साथ आते हैं। दरभंगा के राजा भी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए जाने जाते थे। वर्ष 1955 में, पटना में दरभंगा पैलेस को शाही परिवार द्वारा पटना विश्वविद्यालय को दान कर दिया गया था। वर्तमान में, यह पटना विश्वविद्यालय का एक हिस्सा है जो स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम प्रदान करता है। दरभंगा हाउस हमेशा से पर्यटकों की पसंदीदा जगहों में से एक रहा है |

तारा मंडल – Planetarium, Patna

Tara Mandal, Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Planetarium, Patna, Bihar

पटना के प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक, तारामंडल हर साल लाखों आगंतुकों का मनोरंजन करता है। पटना के तारामंडल को इंदिरा गांधी तारामंडल के नाम से भी जाना जाता है। इसका उद्घाटन बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री श्री लालू प्रसाद यादव ने वर्ष 1993 में किया था।  तारामंडल में आपको खगोल विज्ञान और ग्रहों के बारे में जानने का मौका मिलेगा। यह स्पष्ट ध्वनि और वीडियो की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए कला प्रोजेक्शन स्क्रीन की सर्वोत्तम गुणवत्ता का उपयोग करता है। यहां शिक्षा के साथ मनोरंजन का मिश्रण यहां आने वाले पर्यटकों को प्रेरित करता है। खासकर बच्चों के लिए पटना का तारामंडल घूमने की जगह है।

संजय गाँधी जैविक उद्यान – Patna Zoo

Patna Zoo, Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Patna Zoo, Patna, Bihar

पटना में सबसे ज्यादा घुमे जाने वाला जगह है पटना जू | यह बेली में स्थित है, वनस्पति उद्यान में कई पक्षी और जानवर देखे जा सकते हैं। इसमें भारत के विभिन्न हिस्सों के साथ-साथ अन्य देशों के वनस्पति और जीव शामिल हैं। यह चिड़ियाघर बच्चों को बहुत आकर्षित करता है। इसमें एक कृत्रिम झील भी है जहाँ नौका विहार का आनंद लिया जा सकता है। पेड़ पर बना लकड़ी का घर भी आने वालों को अपनी ओर आकर्षित करता है। गार्डन पूरे साल खुला रहता है। नए साल के दिन, और अन्य छुट्टियों के दौरान, पार्क आमतौर पर पटना में रहने वाले लोगों के साथ-साथ पड़ोसी शहरों के पर्यटकों से भरा होता है। यहाँ लोग पिकनिक मानाने भी आते हैं |

गाँधी संग्रहालय – Gandhi Meseum, Patna

Gandhi Sangrahalay, Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Gandhi Sangrahalay, Patna, Bihar

गांधी संग्रहालय, पटना में गांधी मैदान के उत्तर-पश्चिमी कोने में अशोक राजपथ में स्थित है और इसमें बिहार के साथ महात्मा गांधी के जुड़ाव को दर्शाने वाले चित्रात्मक और अन्य रिकॉर्ड हैं। गांधीजी 1947 में तत्कालीन शिक्षा मंत्री डॉ. सैयद महमूद के इस घर में ठहरे हैं। अब यह घर गांधी संग्रहालय के नाम से प्रसिद्ध है।

कुम्हरार – Kumhrar, Patna

Kumhrar, Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Kumhrar, Patna, Bihar

पटना शहर में स्थित कुम्हरार, वह स्थल है जिसमें पाटलिपुत्र की पुरातात्विक खुदाई शामिल है और अजातशत्रु, चंद्रगुप्त और अशोक की प्राचीन राजधानी को चिह्नित करता है। पटना के दक्षिण में कुम्हरार में प्राचीन शहर पाटिलपुत्र के अवशेष मिले हैं। यह रेलवे स्टेशन से छह किलोमीटर दूर कंकड़बाग रोड पर है। यहां की खुदाई से 600 ईसा पूर्व से 600 ईस्वी तक के चार निरंतर काल के अवशेष मिले हैं। एक महत्वपूर्ण खोज मौर्य वंश का 80-स्तंभों वाला विशाल हॉल है, जो 400-300 ईसा पूर्व का है।

पादरी की हवेली – Padri Ki Haveli, Patna

Padri ki Haveli, Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Padri ki Haveli, Patna, Bihar

पादरी की हवेली एक चर्च है, इस चर्च का निर्माण 1772 में किया गया था। चर्च बिहार का सबसे पुराना ईसाई धर्मस्थल है। 70 फीट लंबे, 40 फीट चौड़े और 50 फीट ऊंचे इस स्मारक की आधारशिला कलकत्ता के विनीशियन आर्किटेक्ट तिरेटो द्वारा डिजाइन और पूरा किया गया था। 25 जून, 1763 को पटना में अंग्रेज व्यापारियों और बंगाल के शासक नवाब मीर कासिम के बीच हुए झगड़े में, हवेली को नवाब के सैनिकों ने उसके खजाने के लिए लूट लिया था। प्राचीन अभिलेखों को नष्ट कर जला दिया गया। 1857 में स्वतंत्रता के पहले युद्ध के दौरान भी संरचना पर हमला किया गया था। आज, स्मारक जटिल विवरणों के साथ एक वास्तुशिल्प आश्चर्य के रूप में खड़ा है जिसे भारत के कुछ अन्य चर्चों में देखा जा सकता है।

पत्थर की मस्जिद – Pathar Ki Masjid, Patna city

Patthar Ki Masjid, Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Patthar Ki Masjid, Patna, Bihar

पत्थर की मस्जिद का निर्माण 1621 में परवेजशाह, पुत्र सम्राट जहाँगीर द्वारा किया गया था, जब वह बिहार के राज्यपाल थे। हर मंदिर साहिब से सटी इस खूबसूरत मस्जिद का निर्माण परवेज शाह ने उस समय करवाया था जब वह बिहार के राज्यपाल थे। यह गंगा के तट पर स्थित है, इसे सैफ खान की मस्जिद, चिम्मी घाट मस्जिद और सांगी मस्जिद भी कहा जाता है। 

श्री कृष्णा विज्ञान केंद्र -Science Centre, Patna

Science Centre, Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Science Centre, Patna, Bihar

यह विज्ञान केंद्र गांधी मैदान के दक्षिण-पश्चिमी कोने में जयप्रकाश नारायण की प्रतिमा के सामने स्थित है। यह श्रीकृष्ण सिन्हा की स्मृति में समर्पित है जो कांग्रेस शासन के दौरान बिहार के मुख्यमंत्री थे। यह विज्ञान केंद्र विज्ञान में रुचि रखने वाले स्कूली बच्चों के साथ-साथ स्थानीय जनता के लिए है। यहां कई मॉडल हैं जो विज्ञान की कई अलग-अलग शाखाओं के कामकाज को दर्शाते हैं। सभी मॉडल विद्युत से संचालित होते हैं। टीवी आदि के कामकाज को दिखाने की व्यवस्था है। इसमें डायनासोर का एक कामकाजी मॉडल और एक मिनी-प्लैनेटोरियम भी है जो बच्चों के बीच मुख्य आकर्षण है। 

अशोका कन्वेंसन केंद्र – Ashoka Convention Centre, Patna

अशोका कन्वेंसन केंद्र (Ashoka Convention Centre), Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Ashoka Convention Centre, Patna, Bihar

पटना में हाल के निर्माण स्थापत्य मानक को बढ़ा रहे हैं और अशोक कन्वेंशन सेंटर की स्थापना से, यह यहां का एक प्रमुख स्थान बन गया है। इस अद्भुत साइट को बनाने में लगभग 3 साल लगे और इसमें तीन प्रमुख हस्ताक्षर भवन शामिल हैं जो बापू सभागार, ज्ञान भवन, सब्यता द्वार हैं। अशोक कन्वेंशन सेंटर के भीतर आपको एक प्रदर्शनी हॉल, एक सभागार, फूड कोर्ट और कई अलग-अलग चीजें देखने को मिलेंगी।

आदि चित्रगुप्त मंदिर – Adi Chitragupt Mandir, Patna city

आदि चित्रगुप्त मंदिर (Adi Chitragupt Mandir), Patna me ghumne ki jagah - पटना मे घुमने की जगह
Adi Chitragupt Mandir, Patna, Bihar

आदि चित्रगुप्त मंदिर पटना में नौजर घाट के पास बहुत प्राचीन मंदिरों में से एक है। इस मंदिर को कायस्थ धाम के नाम से भी जाना जाता है, जहां विशेष रूप से कायस्थ जाति के लोग भगवान चित्रगुप्त को अपना कुल देवता मानते हैं। इस मंदिर की भव्यता देखने लायक है और यह वास्तुकला की उत्कृष्टता को दर्शाता है। आदि चित्रगुप्त मंदिर में भगवान चित्रगुप्त की 16वीं शताब्दी की काली बेसाल्ट पत्थर की मूर्ति है। इस मंदिर में चित्रगुप्त पूजा पूरे उत्साह के साथ मनाई जाती है और इस विशेष दिन पर मंदिर को अच्छी तरह से सजाया जाता है। यह मंदिर पूर्ण आस्था का केंद्र है और यहां अवश्य जाना चाहिए।

इसे भी पढ़े :- द्वारका एक धार्मिक स्थल जहाँ आपको जरुर जाना चाहिए 

FAQ (अक्सर पूछे जाने वाले सवाल)

पटना का मशहूर चीज क्या है?

पटना का मशहूर चीज निम्नलिखित हैं:- पटना भारत के सबसे पुराने शहरों में से एक है। यहाँ कई ऐतिहासिक और सांस्कृतिक स्थल हैं, जिनमें गोलघर, बुद्ध स्मृति पार्क, बिहार संग्रहालय, और पटना संग्रहालय शामिल हैं।

  • लिट्टी चोखा: यह एक प्रसिद्ध बिहारी व्यंजन है, जिसमें गेहूं के आटे से बनी रोटी (लिट्टी) और आलू और मसालों का मिश्रण (चोखा) होता है।
  • मटन हांडी: यह एक प्रसिद्ध बिहारी व्यंजन है, जिसमें मटन को धीमी आंच पर कई घंटों तक पकाया जाता है।
  • गोलघर: यह एक विशाल अन्न भंडार है, जो 18वीं शताब्दी में अंग्रेजों द्वारा बनाया गया था।
  • बुद्ध स्मृति पार्क: यह एक विशाल पार्क है, जिसमें बुद्ध की जीवन और शिक्षाओं को समर्पित कई मंदिर और मूर्तियाँ हैं।
  • बिहार संग्रहालय: यह एक संग्रहालय है, जिसमें बिहार के इतिहास, कला, और संस्कृति को दर्शाने वाली कई वस्तुएँ हैं।

पटना का प्रसिद्ध वाटर पार्क कौन है?

पटना का सबसे प्रसिद्ध वाटर पार्क फंटासिया आईलैंड वाटर पार्क है। यह पटना शहर के समीप, सम्पत्तिचक में स्थित है। यह वाटर पार्क 5 एकड़ भूमि में फैला हुआ है और इसमें सभी उम्र के लोगों के लिए कई तरह की वॉटर स्लाइड्स और आकर्षण हैं।

पटना भारत में क्यों प्रसिद्ध है?

पटना भारत में कई कारणों से प्रसिद्ध है। यह भारत के सबसे पुराने शहरों में से एक है, और इसका इतिहास 2,500 साल से अधिक पुराना है। पटना भारत की पूर्वी सीमा पर स्थित है, और यह एक महत्वपूर्ण व्यापार और परिवहन केंद्र है। पटना बिहार राज्य की राजधानी है, और यहाँ कई सरकारी कार्यालय और संस्थान हैं।

निष्कर्ष (Discloser):

हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आप सभी लोगों को पटना में घूमने की जगह (Patna Me Ghumne ki Jagah) (tourist places in patna) से सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी है और यह जानकारी अगर आपको पसंद आई है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले। आपके इस बहुमूल्य समय के लिए धन्यवाद |

अगर आपके मन में हमारे आज के इस लेख के सम्बन्ध में कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बताएं। हम आपके द्वारा दिए गए comment का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे और हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को अंतिम तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद |

12 thoughts on “10+ पटना के प्रमुख पर्यटन स्थल जो काफी प्रसिद्ध है – Patna me ghumne ki jagah”

  1. Thanks for this info, I just got the much needed list of tourist places in Patna. I would just recommend adding some info in English as well. It would be better for every group of audience.

    Reply

Leave a Comment