शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी – Shirdi in India

5/5 - (1 vote)

Shirdi in India:- आज के इस ब्लॉग पोस्ट में मै आपको ऐसे दिव्य स्थान की यात्रा पर ले चल रहा हु, जहाँ आपकी सर्व मनोकामना की सिद्धि होती है, मन व्याकुल हो तो चैन मिलता है। नाम हैं, “शिरडी स्थान और साईं बाबा की समाधि” जी हाँ, अब तक मैं यहाँ सर्वाधिक दर्शन के लिए गया हूं। महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में स्थित शिरडी एक छोटा सा गांव है, लेकिन यह अपने आध्यात्मिक महत्व के लिए जाना जाता है। यहां स्थित साईं बाबा का मंदिर हिंदू और मुस्लिम दोनों धर्मों के लोगों के लिए एक प्रमुख तीर्थस्थल है।

शिरडी परिचय – Shirdi History

शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी - Shirdi in India

सर्वप्रथम आपको यह बता दें कि ‘ शिरडी ‘ को मराठी में ‘ शिर्डी ‘ कह कर सम्बोधित करते है। हमने दोनों नाम का बराबर प्रयोग किया है ताकि आप कभी सन्देह में न आये। शिरडी महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में स्थित एक छोटा सा गांव है। यह गांव अपने आध्यात्मिक महत्व के लिए जाना जाता है। यहां स्थित साईं बाबा का मंदिर हिंदू और मुस्लिम दोनों धर्मों के लोगों के लिए एक प्रमुख तीर्थस्थल है। शिरडी, अहमदनगर-मनमाड राज्यमार्ग (State Highway No. 10) पर स्थित है। यह नगर मनमाड से 65 KM जबकि ज़िला मुख्यालय अहमदनगर से 80 KM की दूरी पर अवस्थित हैं।

साईं बाबा का जीवन – sai baba ka jivani

शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी - Shirdi in India

साईं बाबा एक भारतीय आध्यात्मिक गुरु और फकीर थे, जिन्हें एक संत माना जाता था। उनके जीवनकाल के दौरान और उसके बाद हिंदू और मुस्लिम दोनों भक्त उनका सम्मान करते थे। साईं बाबा का जन्म 1838 में हुआ था। उनका जन्म स्थान और माता-पिता के बारे में कोई निश्चित जानकारी नहीं है। कुछ लोगों का मानना ​​है कि उनका जन्म आंध्र प्रदेश के पथरी गांव में हुआ था, जबकि अन्य का मानना ​​है कि उनका जन्म महाराष्ट्र के शिर्डी गांव में हुआ था। साईं बाबा का बचपन अज्ञात है। पहली बार उन्हें 1854 में शिर्डी में देखा गया था। उस समय वे एक किशोर थे। वे एक पुराने मस्जिद में रहने लगे और लोगों को आध्यात्मिक ज्ञान और मार्गदर्शन प्रदान करने लगे। साईं बाबा के पास कई चमत्कारी शक्तियां थीं। वे लोगों के रोगों को दूर कर सकते थे, उन्हें भविष्यवाणी कर सकते थे और उन्हें सही मार्ग दिखा सकते थे। उनके भक्तों का मानना ​​था कि वे एक अवतार थे। साईं बाबा ने 1918 में शिर्डी में अपने भक्तों के बीच अपना शरीर छोड़ दिया। उनकी मृत्यु के बाद, शिर्डी एक प्रमुख तीर्थस्थल बन गया।

साईं बाबा का मंदिर – Sai Baba of Shirdi

शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी - Shirdi in India

साईं बाबा का मंदिर शिरडी में स्थित है। यह मंदिर एक विशाल परिसर है जिसमें मंदिर एक विशाल परिसर है जिसमें एक मुख्य मंदिर, एक धर्मशाला, एक अस्पताल और कई अन्य भवन शामिल हैं। मंदिर का मुख्य आकर्षण साईं बाबा की एक विशाल मूर्ति है। यह मूर्ति संगमरमर से बनी है और इसे 1922 में बनाया गया था। मंदिर में हर दिन हजारों भक्त आते हैं। वे साईं बाबा के दर्शन करते हैं और उनकी कृपा प्राप्त करने के लिए प्रार्थना करते हैं। मंदिर में कई अनुष्ठान और समारोह आयोजित किए जाते हैं। सबसे लोकप्रिय समारोहों में से एक साईं बाबा का जन्मदिन समारोह है, जिसे हर साल 28 सितंबर को मनाया जाता है।

साईं बाबा की पालकी – Sai Baba ki Palki

शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी - Shirdi in India

साईं बाबा की पालकी प्रत्येक गुरुवार को शाम में बाबा की पालकी निकाली जाती है, जिसमें हज़ारो लोग शामिल होते है। इस पालकी को शिरडी नगर में घुमा कर द्वारकामाई लाया जाता है। आपको हम यह बता दे कि साईं बाबा का विशेष दिन गुरुवार(बृहस्पतिवार) को कहते हैं। हिन्दू मान्यता और सनातन धर्म में साधु, गुरु या संतो के विशेष पूजा के लिए बृहस्पतिवार(गुरुवार) के दिन की मान्यता होती है।

शिरडी में दर्शनीय स्थल – Shirdi Tourist Places

शिरडी में घूमने की जगह वैसे तो यहाँ कई है पर श्रधालु यहाँ साईं बाबा के मंदिर के दर्शन के लिए लाखो की संख्या में आते हैं और अपनी मनोकामना करते हैं पर अगर आप शिरडी आयें हैं तो साईं बाबा का दर्शन तो जरुर करे और इसके साथ साथ यहाँ एनी दर्शनीय स्थल है जिसे भी आपको देखना चाहिए तो चलिए साईं बाबा के मंदिर के अलावा यहाँ और घूमने के लिए क्या खास है निचे जानते हैं :-

Table of Contents

श्री साईं बाबा प्रसादालय शिरडी – Prasadalaya Shirdi , Saibaba Mandir

शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी - Shirdi in India

श्री साईं बाबा प्रसादालय शिरडी में साईं बाबा मंदिर के परिसर में स्थित एक विशाल रसोई है। यह रसोई दुनिया की सबसे बड़ी सौर ऊर्जा से चलने वाली रसोई है और यह प्रतिदिन लगभग 60,000 भक्तों को मुफ्त भोजन प्रदान करती है। प्रसादालय की स्थापना 2009 में शिर्डी साईं बाबा संस्थान ट्रस्ट द्वारा की गई थी। रसोई में आधुनिक उपकरणों और प्रौद्योगिकियों का उपयोग करके भोजन तैयार किया जाता है। भोजन में चावल, दाल, सब्जियां, रोटी और मिठाई शामिल हैं। प्रसादालय के उद्देश्यों में से एक साईं बाबा के आदर्शों को फैलाना है, जो सभी के लिए समानता और प्रेम की बात करते थे। रसोई सभी धर्मों और जाति के लोगों के लिए खुली है।प्रसादाालय हर दिन सुबह 10 बजे से रात 10 बजे तक खुला रहता है। भक्त भोजनालय में भोजन कर सकते हैं या इसे घर ले जा सकते हैं।

साईं बाबा की कला दीर्घा – Sai Baba’s Art Gallery Shirdi

शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी - Shirdi in India

साईं बाबा की कला दीर्घा शिरडी में साईं बाबा मंदिर के परिसर में स्थित एक कला दीर्घा है। यह दीर्घा साईं बाबा के जीवन और शिक्षाओं को चित्रित करने वाली विभिन्न कलाकृतियों का घर है। दीर्घा की स्थापना 1978 में शिर्डी साईं बाबा संस्थान ट्रस्ट द्वारा की गई थी। दीर्घा में विभिन्न प्रकार की कलाकृतियां शामिल हैं, जिनमें चित्र, मूर्तियां, और धातु की कलाकृतियां शामिल हैं। दीर्घा में साईं बाबा के जीवन के विभिन्न चरणों को चित्रित करने वाली कई चित्र हैं। इन चित्रों में साईं बाबा के बचपन, उनके युवावस्था, और उनके गुरुत्व के वर्ष शामिल हैं। दीर्घा में साईं बाबा के कई चमत्कारों को भी चित्रित करने वाली कलाकृतियां हैं। इन कलाकृतियों में साईं बाबा के लोगों को बीमारी से ठीक करना, भविष्यवाणी करना, और उन्हें सही मार्ग दिखाना शामिल है। दीर्घा में साईं बाबा के जीवन और शिक्षाओं को चित्रित करने वाली कई मूर्तियां भी हैं। इन मूर्तियों में साईं बाबा को विभिन्न मुद्रा में दिखाया गया है, जैसे कि बैठे, खड़े, और ध्यान में। दीर्घा में साईं बाबा के जीवन और शिक्षाओं को चित्रित करने वाली कई धातु की कलाकृतियां भी हैं। इन कलाकृतियों में साईं बाबा की मूर्तियां, उनके मंत्र, और उनके आदर्श शामिल हैं। साईं बाबा की कला दीर्घा एक महत्वपूर्ण सांस्कृतिक संपत्ति है। यह दीर्घा साईं बाबा के जीवन और शिक्षाओं को दुनिया भर के लोगों के लिए प्रसारित करती है।

साई हेरिटेज विलेज – Sai Heritage Village shirdi

शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी - Shirdi in India

साई हेरिटेज विलेज, शिरडी में स्थित एक थीम पार्क है। यह पार्क साईं बाबा के जीवन और शिक्षाओं को दर्शाता है। पार्क में साईं बाबा के जीवन के विभिन्न चरणों को चित्रित करने वाली मूर्तियां, चित्र और अन्य कलाकृतियां हैं। पार्क में साईं बाबा के चमत्कारों को भी दर्शाया गया है। पार्क में एक ऐतिहासिक बाजार भी है जो उस समय की संस्कृति और परंपराओं को दर्शाता है। बाजार में विभिन्न प्रकार के दुकानें हैं जो पारंपरिक शिल्प, हस्तशिल्प, और अन्य सामान बेचती हैं। पार्क में एक झील भी है जहां लोग आराम कर सकते हैं और प्रकृति का आनंद ले सकते हैं। झील के किनारे एक मंदिर भी है जो साईं बाबा को समर्पित है।

साईं तीर्थ भक्ति थीम पार्क – Sai Teerth Devotional Theme Park Shirdi

शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी - Shirdi in India

साईं तीर्थ भक्ति थीम पार्क, शिरडी में स्थित एक भव्य थीम पार्क है। यह पार्क साईं बाबा के जीवन और शिक्षाओं को दर्शाता है। पार्क में साईं बाबा के जीवन के विभिन्न चरणों को चित्रित करने वाली मूर्तियां, चित्र और अन्य कलाकृतियां हैं। पार्क में साईं बाबा के चमत्कारों को भी दर्शाया गया है। पार्क में एक ऐतिहासिक गांव भी है जो उस समय की संस्कृति और परंपराओं को दर्शाता है। गांव में विभिन्न प्रकार के घर, दुकानें और अन्य इमारतें हैं। गांव में एक मंदिर भी है जो साईं बाबा को समर्पित है।पार्क में एक 5D थिएटर भी है |

Wet N Joy Water Park Shirdi

शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी - Shirdi in India

महाराष्ट्र के लोनावला में स्थित भारत के सबसे बड़े पानी के पार्कों में से एक Wet N Joy Water Park है। यह गर्मियों के महीनों में विशेष रूप से एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। पार्क सभी उम्र के लोगों के लिए विभिन्न प्रकार के पानी की सवारी, स्लाइड और पूल प्रदान करता है। एक लहर पूल, एक आलसी नदी और एक बारिश नृत्य क्षेत्र भी है।

FAQ (शिरडी के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले सवाल) :-

शिरडी में साईं बाबा के आरती का समय?

शिरडी में साईं बाबा के आरती का समय इस प्रकार है:

  • सुबह की आरती (काकड़ आरती): प्रातः 5:15 बजे
  • दोपहर की आरती: दोपहर 12:15 बजे
  • शाम की आरती (धूप आरती): शाम 7:15 बजे
  • रात की आरती (शेजारती आरती): रात 10:00 बजे

शिरडी के लिए आरती की बुकिंग कैसे करें?

शिरडी के लिएआरती की बुकिंग दो तरीकों से की जा सकती है:

  • ऑनलाइन बुकिंग: श्री साईं बाबा संस्थान ट्रस्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आप आरती की बुकिंग कर सकते हैं। वेबसाइट पर, आपको “आर्टी टिकट” टैब पर क्लिक करना होगा। फिर, आप आरती की तारीख, समय और श्रेणी चुन सकते हैं। आरती टिकट की बुकिंग के लिए आपको ₹20 का शुल्क देना होगा।
  • ऑफलाइन बुकिंग: आप शिरडी में साईं बाबा मंदिर के मुख्य कार्यालय में जाकर भी आरती की बुकिंग कर सकते हैं। कार्यालय का पता है:- श्री साईं बाबा संस्थान ट्रस्ट, शिरडी, महाराष्ट्र 423109 | ऑफलाइन बुकिंग के लिए आपको ₹50 का शुल्क देना होगा।

शिरडी दर्शन बुकिंग ऑनलाइन कैसे करें?

शिरडी दर्शन बुकिंग ऑनलाइन दो तरीकों से की जा सकती है: 1. ऑनलाइन वेबसाइट, 2. मोबाइल एप से

1. ऑनलाइन वेबसाइट से करने लिए, आपको श्री साईं बाबा संस्थान ट्रस्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। वेबसाइट का पता है: https://online.sai.org.in/  | वेबसाइट पर, आपको “दर्शन टिकट” टैब पर क्लिक करना होगा। फिर, आपको दर्शन की तारीख, समय और श्रेणी चुननी होगी। दर्शन टिकट की बुकिंग के लिए आपको ₹100 का शुल्क देना होगा।

  • दर्शन की बुकिंग करते समय, आपको निम्नलिखित जानकारी प्रदान करनी होगी:
  • आपका नाम
  • आपका आधार कार्ड नंबर या अन्य फोटो पहचान पत्र
  • आपकी संपर्क जानकारी
  • आपकी दर्शन की पसंद (सुबह की आरती, दोपहर की आरती, शाम की आरती या रात की आरती)

दर्शन की बुकिंग करने के बाद, आपको एक दर्शन टिकट प्राप्त होगा। इस टिकट को दर्शन के दिन मंदिर के प्रवेश द्वार पर दिखाना होगा।

2. मोबाइल ऐप का उपयोग करके :- श्री साईं बाबा संस्थान ट्रस्ट ने एक मोबाइल ऐप भी लॉन्च किया है। इस ऐप का उपयोग करके भी आप शिरडी दर्शन की बुकिंग कर सकते हैं। ऐप डाउनलोड करने के लिए, आप Google Play Store या Apple App Store पर जा सकते हैं। ऐप खोलने के बाद, आपको “दर्शन टिकट” टैब पर क्लिक करना होगा। फिर, आपको दर्शन की तारीख, समय और श्रेणी चुननी होगी। दर्शन टिकट की बुकिंग के लिए आपको ₹100 का शुल्क देना होगा। दर्शन की बुकिंग करते समय, आपको उपरोक्त जानकारी प्रदान करनी होगी। दर्शन की बुकिंग करने के बाद, आपको एक दर्शन टिकट प्राप्त होगा। इस टिकट को दर्शन के दिन मंदिर के प्रवेश द्वार पर दिखाना होगा।

ध्यान दें कि शिरडी दर्शन की बुकिंग एक दिन पहले ही बंद हो जाती है। इसलिए, यदि आप शिरडी दर्शन की योजना बना रहे हैं, तो आपको पहले से बुकिंग कर लेनी चाहिए।

शिरडी जाने के लिए कौन से स्टेशन में उतरना पड़ेगा?

शिरडी जाने के लिए सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन साईंनगर शिरडी है। यह स्टेशन शिरडी से 5 किलोमीटर दूर है। साईंनगर शिरडी रेलवे स्टेशन भारत के प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। इस स्टेशन पर कई ट्रेनें रुकती हैं।

शिरडी कहाँ है?

शिरडी महाराष्ट्र राज्य के औरंगाबाद जिले में स्थित एक छोटा सा गाँव है। यह मुंबई से लगभग 296 किलोमीटर दूर है। शिरडी साईं बाबा के मंदिर के लिए प्रसिद्ध है। साईं बाबा एक संत थे, जिन्हें हिंदू और मुस्लिम दोनों धर्मों के लोग पूजते हैं।

शिरडी में घूमने का सबसे अच्छा समय?

शिरडी में घूमने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च के बीच का है। इस दौरान मौसम सुहावना रहता है और पर्यटकों की भीड़ कम होती है।

शिरडी में खरीदारी?

शिरडी में कई दुकानें हैं, जहां आप साईं बाबा की मूर्तियां, पोस्टर, ताबीज और अन्य धार्मिक वस्तुएं खरीद सकते हैं।

शिरडी में ठहरने के लिए स्थान?

शिरडी में कई होटल, धर्मशालाएं और गेस्टहाउस हैं। आप अपनी बजट और सुविधा के अनुसार किसी भी स्थान पर रह सकते हैं।

शिरडी कैसे पहुंचें?

शिरडी हवाई अड्डा, जो शहर से लगभग 15 किलोमीटर दूर है, देश के कई प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है। शिरडी रेलवे स्टेशन भी देश के कई प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है। शिरडी शहर से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है और यहां बस और टैक्सी सेवाएं आसानी से उपलब्ध हैं।

शिरडी घूमने का खर्चा?

शिरडी घूमने का खर्चा आपके बजट और यात्रा के तरीके पर निर्भर करता है। अगर आप ट्रेन या बस से यात्रा करते हैं, तो आपका खर्चा कम होगा। अगर आप हवाई जहाज से यात्रा करते हैं, तो आपका खर्चा अधिक होगा। ऐसे अनुमानित बजट खर्च लगभग ₹2,500 से ₹5,000 प्रति व्यक्ति हो सकता है। 

निष्कर्ष (Discloser):

हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आप सभी लोगों को शिरडी में घूमने की जगह (Shirdi me Ghumne ki Jagah) (tourist places in Shirdi) से सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी है और यह जानकारी अगर आपको पसंद आई है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले। आपके इस बहुमूल्य समय के लिए धन्यवाद |

अगर आपके मन में हमारे आज के इस लेख के सम्बन्ध में कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बताएं। हम आपके द्वारा दिए गए comment का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे और हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को अंतिम तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद |

इसे भी पढ़े :-

और भी पर्यटन स्थल के बारे मे जानकारी के लिए आप हमारे होम पेज पे जाकर किसी भी शहर के बारे मे सर्च कर घुमने कि जगह के बारे मे जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

नोट: यह ब्लॉग पोस्ट शिरडी के प्रति मेरी आत्मीय भावनाओं का प्रतिबिंब है और इसका उद्देश्य केवल जानकारी साझा करना है |

2 thoughts on “शिरडी में घूमने की जगह और दर्शन की सम्पूर्ण जानकारी – Shirdi in India”

  1. Have you ever considered about including a little bit
    more than just your articles? I mean, what you say is valuable and everything.
    Nevertheless think of if you added some great photos or videos to give your posts more, “pop”!
    Your content is excellent but with images and
    videos, this blog could certainly be one of the best in its niche.
    Great blog!

    Reply

Leave a Comment